भजन संग्रह:: ओ पालनहारे निरगुन और न्यारे

ओ पालनहारे निरगुन और न्यारे

ओ पालनहारे निरगुन और न्यारे

ओ पालनहारे निरगुन और न्यारे
ओ पालनहारे निरगुन और न्यारे
तुमरे बिन हमरा कौनों नाहीं..
हमरी उलझन सुलझाओ भगवन
तुम्हई हमका हो संभाले..

तुम्हई हमरे रखवाले
चंदा में तुम्हई तो भरे हो चाँदनी
सूरज में उजाला तुम्हई से
ये गगन है मगन तुम्हई तो दीये हो ई तारे
भगवन ये जीवन तुम्हई न सँवारोगे तो क्या कोई सँवारे..

ओ पालनहारे
जो सुनो तो कहें प्रभुजि हमरी है बिनती
दुखी-जन को धीरज दो हारे नहीं वो कभी दुख से
तुम निरबल को रक्षा दो रह पाये निरबल सुख से..

अनमोल विचार