श्रीरामशलाका :: श्रीरामचरितमानस श्रीरामशलाका

श्रीरामचरितमानस श्रीरामशलाका

इसकी उपयोग विधि बेहद सुगम है। सबसे पहले भगवान श्रीरामचंद्रजी का श्रद्धापूर्वक ध्यान करें और उस प्रश्न के बारे में सोचें, जिसपर प्रभु का मार्गदर्शन पाने की इच्छा हो। फिर नीचे दिये गये किसी भी अक्षर पर आंख बंद कर के क्लिक करें। आपके द्वारा क्लिक किये हुये अक्षर से प्रत्येक 9वें नम्बर के अक्षर को जोड़ कर एक चौपाई बनेगी जो की आपके प्रश्न का उत्तर होगी।

सु प्र बि हो मु सु नु बि धि
रु सि सि रहिं बस हि मं अं
सुज सो सु कु धा बे नो
त्य कु जो रि की हो सं रा
पु सु सी जे सं रे हो नि
हुँ चि हिं तु
का मि मी म्हा जा हू हीं
रा रे री ह्र का खा जू रा पू
नि को जो गो मु जि यँ ने मनि
हि रा मि रि न्मु खि जि जं
सिं नु को मि निज र्क धु सु का
गु रि नि ढ़ ती
ना पु तु वै
सि हुँ हुँ म्ह रा
ला धी री हू हीं खा जू रा रे



अनमोल विचार