स्तुति संग्रह :: स्तुति संग्रह

स्तुति संग्रह क्या है?

स्तुति संग्रह

शिव स्तुति संग्रह देवी देवताओं का वृहद्, अद्वैत्य और अनुपम संकलन है। रामायण में सच्चरित्रवान् पात्र अनेक हैं। इसमें पवनपुत्र श्री हनुमान जी की सुन्दर स्तुति की गई है जो श्री हनुमान चालीसा के नाम से प्रसिद्ध है।

इसके गंभीर भावों पर विचार करने से मन में श्रेष्ठ ज्ञान के साथ भक्तिभाव जाग्रत होता है।चालीसा भारतीय काव्य पद्धति की एक शैली होती है जिसमें चालीस चौपाये होते हैं। ज्योतिषानुसार स्तुति का प्रयोग देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है।

अनमोल विचार

शैलपुत्री (Shailputri)

शैलपुत्री

ब्रह्मचारिणी (Brahmcharini)

ब्रह्मचारिणी

चंद्रघंटा (Chandraghanta )

चंद्रघंटा

कूष्माण्डा (Kushmanda)

कूष्माण्डा

स्कन्दमाता(Sakandmata)

स्कन्दमाता

कात्यायनी (Katyayni)

कात्यायनी

कालरात्रि (Kaalratri)

कालरात्रि

महागौरी (Mahagauri)

महागौरी

सिद्धीदात्री (Sidhidatri)

सिद्धीदात्री